Swami Vivekananda ji के जीवन से एक अनोखी सीख

दोस्तों, शायद ही कोई ऐसा होगा जो Swami Vivekananda ji से अपरिचित होगा।उनका जन्म 12 January, 1863 में कलकता में हुआ था। 700 पेज की किताब सिर्फ एक घंटे में याद कर लेने की क्षमता रखने वाले, एक महान योगी, Swami Vivekananda ji सिर्फ भारत में ही नहीं पुरे विश्व में प्रसिद्ध है। 19th September, 1893 में उनके शिकागो में दिए गए प्रवचन और लोगो के सम्बोधन के लिए बोली गई लाइन “Sisters and Brothers of America” लोगो को इतनी पसंद आई की वे पुरे विश्व में प्रसिद्ध हो गए। और इस लाइन के लिए उनको पार्लियामेंट के 7000 लोगो से, दो मिनिट का Standing Ovation (खड़े होकर सराहना) मिला था। 

Swami Vivekananda ji
By The original uploader was Dziewa at English Wikipedia. - Transferred from en.wikipedia to Commons., Public Domain, Link

Swami Vivekananda और माँ शारदा का प्रसंग

जब Swami Vivekananda ji को शिकागो जाना था तब उन्होंने माँ शारदा से परमिशन मांगते हुए पूछा की- ‘क्या में विदेश जा कर अपने देश, अपने विचारो का प्रचार कर सकता हूँ।’ 
तब माँ शारदा ने किचन से चाकू लेकर आने को कहा। स्वामीजी चाकू लेकर आते है और माँ को देते है। माँ ने कहा- ‘अब तुम तैयार हो तुम जा सकते हो। तब स्वामीजी को आश्चर्य हुआ और पूछा की- ‘माँ आपने तो बिना पूछे ही आज्ञा दे दी, आखिर क्यों?’

तब माँ ने अद्भुत जवाब दिया की अब तुम्हारी परीक्षा खत्म हुई। जब मेने तुमसे चाकू मांगा तब तुमने चाकू की धार वाला हिस्सा तुम्हारी और रखा और लकड़ी वाला हिस्सा मेरी और रखा ताकि मुझे चोट ना लगे। तुम्हारी जगह कोई और होता तो लकड़ीवाला हिस्सा पकड़कर धारवाला हिस्सा मेरी और रखता। लेकिन तुमने खुद के बारे में सोचने से पहले मेरे बारे में सोचा।

Lesson from the Story: Swami Vivekananda ji

दोस्तों बहुत लोगो का एक ही सवाल होता है की जीवन में सफल कैसे बने। लेकिन याद रखिये जीवन में सफल वही बनता है जो अपने से पहले दुसरो के बारे में सोचता है। अगर आपको भी सफल बनना है तो खुदके बारे में सोचने से पहले दुसरो के बारे में सोचिये, कैसे आप लोगो की मुश्किलों का हल ढूँढ पाते है, कैसे आप लोगो का जीवन सरल बना सकते है।
स्वामीजी इसलिए महान बने क्योकि उन्होंने खुद के बारे में सोचने से पहले लोगोकी भलाई के बारे में सोचा।
आज आप बड़े से बड़ा बिज़नेस ले लीजिये चाहे वो Amazon हो या Google सब कंपनीने लोगो के जीवन को प्रभावित किया है।
अगर आपको भी करोड़पति या अरबपति बनना है तो अपने से पहले दुसरो के बारे में सोचिये फिर देखिये क्या होता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *